ATM FULL FORM IN HINDI – ATM FULL FORM क्या है?

अगर आप कभी भी ATM से पैसे निकालते हैं तो आपको मन में यह सवाल जरूर आया होगा कि इस ATM FULL FORM  क्या होगा.

क्योंकि बहुत सारे लोगों के मन में यह ख्याल आता है कि ATM FULL FORM  एनी टाइम मनी मतलब किसी भी समय पैसे निकालने की मशीन यह है पर इस का फुल फॉर्म है यह नहीं है इसलिए आपको इसकी पूरी जानकारी जानना जरूरी है तभी आप अपने नॉलेज को बढ़ा सकते हैं.

ATM यह एक बैंक का पैसे निकालने का मशीन होता है जो बैंक के शाखा के आसपास लगाया होता है उससे आप कभी भी ATM कार्ड लेकर पैसे निकाल सकते हैं.

ATM FULL FORM IN HINDI
ATM FULL FORM

पर इस ATM को दुनिया में सभी जगह ATM नहीं कहा जाता दुनिया के कई अन्य ठिकानों में ATM को एबीएम कहा जाता है यह भी हम मतलब ऑटोमेटिक बैंकिंग मशीन.

इसके साथ-साथ भारत के अलावा अन्य देशों में इस ATM मशीन को कैश मशीन मिनी बैंक और कैश प्वाइंट इस नाम से भी जाना जाता है.

तो आपको इस पोस्ट में मैंने आपको पूरी तरीके से ATM FULL FORM  और उसके बारे में और भी कई अन्य जानकारी कि जैसे कि ATM कैसे काम करता है.

ATM के कौन-कौन से प्रकार है इन सभी के बारे में एकदम बारीकी से जानकारी दी है आप इस पोस्ट को पढ़कर ATM FULL FORM  जान सकते हैं

ATM FULL FORM IN HINDI 

दोस्तों ATM FULL FORM  ऑटोमेटेड टेलर मशीन होता है. इसी लोंग फॉर्म  का शॉर्ट फॉर्म है ATM इसकी एक एक शब्द का अर्थ-

  • A – AUTOMATED 
  • T – TELLER 
  • M – MACHINE

ATM FULL FORM

यह सारी शब्दों को मिलकर एक ATM FULL FORM का निर्माण हुआ है और इसे जब आप शॉर्ट फॉर्म में करने जाते हैं तभी ATM यह शब्द निकल कर आता है और आपको अगर ATM के बारे में और भी फुल फॉर्म जानने हैं.

क्योंकि ATM यह एक बहुत प्रचलित शब्द है अलग-अलग इंडस्ट्रीज में इस शब्द के लिए अलग-अलग अर्थ होते हैं जैसे कि ATM FULL FORM यह एक ATM का AUTOMATED TELLER MACHINE था वैसे ही अलग-अलग जगह पर इसके अलग-अलग उच्चार है नीचे दिए गए हैं.

इसके अलावा ATM के फुल फॉर्म बहुत सारे हैं पर यह कुछ मुख्य ATM के फुल फॉर्म है.

  • एयर ट्रेफिक मैनेजमेंट
  • एसोसिएशन ऑफ टीचर्स ऑफ मैथमेटिक्स
  • अल्तमिरा एयरपोर्ट

ATM क्या काम करता है? 

ATM एक बिजली पर चलने वाली मशीन है इस मशीन के अंदर बैंकों के द्वारा पैसे डाले जाते हैं और वह कैसे बैंक के जो ग्राहक होते हैं उन ग्राहकों के अकाउंट में पैसे निकालने के लिए उस ATM इलेक्ट्रिक कम्युनिकेशन डिवाइस होता है.

 इस ATM मशीन के अंदर ग्राहकों के पास एक विशिष्ट प्रकार का कार्ड होता है जिस कार्ड में एक इलेक्ट्रॉनिक चिप लगी होती है उस चीज से उसकी आईडेंटिटी होती है कि जो ग्राहक का अकाउंट धारक है वही अकाउंट धारक ATM मशीन के अंदर अपना ATM कार्ड डाल रहा है.

उस ट्रिप के जरिए ATM और उस ग्राहक से कनेक्शन होता है और उसके बाद सभी काम होते हैं .जिसके ATM कार्ड पर एक विशेष प्रकार की मैग्नेटिक टेप होती है जिस पर ग्राहक की सभी जानकारी एक गुप्त स्वरूप में होती है.

ATM मशीन की सिवाय कोई भी नहीं पढ़ सकता और उस पट्टी में एक आइडेंटी का कोड होता है जो सिर्फ बैंक के मुख्य कंप्यूटर के सॉफ्टवेयर से जुड़ा होता है इसलिए यूजर अपनी अकाउंट तक आसानी से पहुंच जाता है.

अपने ATM में सभी व्यवहार एकदम आसानी से कर सकता है यह एक ATM का काम होता है.अंदर सभी ग्राहकों के खाते में कितना रकम जमा है और उनकी सभी जानकारी की सॉफ्टवेयर लगे होते हैं वह सारी जानकारी उस ATM मशीन के अंदर होती है.

उस मशीन के सहायता से कोई भी ग्राहक अपने बैंक अकाउंट में कितने रकम बाकी है और फंड ट्रांसफर और बैंकों से जुड़े सभी व्यवहार ATM पर कर सकता है .

कुछ कुछ व्यवहारों को छोड़कर एडीएम एक बैंक ही है सिर्फ यहां पर कोई कर्मचारी नहीं होता यह सारे मशीन के द्वारा ऑपरेट होता है और इसके साथ-साथ आपको यह सिर्फ मशीन को आदेश देना पड़ता है और वह आदेश आपको मशीन के बटन दबाकर दे सकते हैं ATM मशीन बहुत प्रचलित है.

सबसे तेजी से काम करने में क्योंकि अगर आप बैंक में जाते हैं रकम निकालने के लिए आपको बहुत ज्यादा समय लगता है तहे पर अगर आप ATM में जाओगे तो ATM आपको कुछ ही मिनटों में आपके काम कर देगा

ATM FULL FORM IN ENGLISH 

“AUTOMATED TELLER MACHINE” ATM FULL FORM  इंग्लिश में होता है और इसी को हिंदी में ATM कहा जाता है.

ATM बनाने के मुख्य उद्देश्य क्या थे ? 

  • ATM यह एक 24 घंटे चालू रहता है इसलिए आप कौन से भी समय आप या आपातकालीन समय में उसका उपयोग करके पैसे निकाल सकते हैंहैं
  • ATM कार्ड से पैसे निकालने के लिए ATM कार्पिन भी जरूरी होता है इसलिए आप अगर अपना कार्ड कहीं भी भूल जाते हैं फिर भी आपको कोई पैसे की चिंता नहीं करनी पड़ती
  • ATM मशीन बहुत फास्ट काम करती है इसलिए बहुत सारे लोगों को जल्दी होते हैं उन लोगों के लिए यह ATM मशीन सबसे बढ़िया होती है क्योंकि उनका समय बहुत बच जाता है
  • आजकल जो टेक्नोलॉजी है इस टेक्नोलॉजी से आप अपने ATM का पिन के अलावा अपना फिंगरप्रिंट भी लगा सकते इसलिए आप एकदम आसानी से अपने पैसे को सिर्फ अपनी फिंगरप्रिंट के मदद से एकदम सिक्योर तरीके से है रख सकते हैं

ATM के कुछ महत्वपूर्ण जानकारी

  • ATM से पैसे जब आप निकालते हैं तब आपके कार्ड कौन से टाइप का है यह आपको देखना जरूरी होता है क्योंकि ATM में अगर आप डेबिट कार्ड और क्रेडिट कार्ड लेकर जाते हैं.
  • तो सबसे ज्यादा आपको डेबिट कार्ड पर टैक्स की छूट मिलती है और अगर आप क्रेडिट कार्ड इस्तेमाल करते तो आपके टैक्स ज्यादा कटेंगे और आपके ATM में पैसे कम रहेंगे
  • ATM मशीन में अगर आप अपनी बैंक का ATM इस्तेमाल करते तो आपकी ATM कार्ड में जो टैक्स लगते हैं वह टेक्स्ट नहीं लगते हैं और अगर आप उसी तरह पैसे निकालने के लिए अगर दूसरी बैंक का ATM मशीन इस्तेमाल करते हैं तो उस पर ज्यादा टैक्स लगते हैं
  • ATM कार्ड आप अपनी जो ऑनलाइन शॉपिंग करते हैं और जो सभी ऑनलाइन काम करते ऑनलाइन नेट बैंकिंग इन सभी चीजों के लिए आप अभी ATM कार्ड इस्तेमाल करके वह सारे काम जो आपको ऑफलाइन करने पड़ते थे जैसे कि बिजली का बिल भरना वह सारे आपके बेटे सिर्फ एक ATM कार्ड के मदद से कर सकते हैं.

दोस्तों ATM की वजह से आज कल हम अपनी जिंदगी में एकदम आसानी से कहीं पर भी हो कर बिना बैंक जाए पैसे निकाल सकते हैं ATM यह एक बहुत आसान तरीका है.

अपने बैंक अकाउंट से पैसे निकालने का ATM को बहुत सारी सुविधाओं के लिए बनाया गया था इनमें से सभी सुविधा मैंने आपको नीचे दिए है.

ATM के कौन-कौन से प्रकार है? 

दोस्तों ATM यह एक पैसे निकालने की मशीन है पर इस ATM मशीन के बहुत सारे प्रकार होते हैं इनमें से मुख्य प्रकार मैंने आपको बताएं तो सबसे पहले ATM का पहला प्रकार है.

  • ऑफलाइन ATM : ऑफलाइन ATM ATM के प्रकार में जो सारा ATM के अंदर डाटा होता है वह डाटा बैंक से लिंक नहीं होता और अगर आपके बैंक अकाउंट में पर्याप्त बैलेंस नहीं है तो आप इस ATM से निकाल सकते हैं इसके लिए आपको कुछ बैंक को कटौती होती है.
  • ऑनसाइट ATM: ऑनसाइट ATM के प्रकार में जो सभी ATM बैंक या बैंक के परिसर में होते हैं उन सभी ATM को ऑन साइट ATM कहा जाता है क्योंकि वह ATM डायरेक्ट बैंक से जुड़े होते हैं.
  • ऑनलाइन ATM: ATM के प्रकार में ATM बैंक से 4 घंटे के लिए कनेक्ट रहता है जिससे आप अपने अकाउंट में जितने बैलेंस है उसने बैलेंस को निकाल सकते हैं यह एक ऑनलाइन पैसे निकालने का सबसे बढ़िया उपाय हैं.
  • ऑफ साइट ATM : आप आमतौर पर जिस ATM से पैसे निकालते हैं वह ATM ऑफसाइट होता है जो ATM अपने बैंक के नजदीक ना होकर ज्यादा घरों की इलाकों में जिस जिसमें बहुत ज्यादा लोग रहते हैं वहां पर यह ATM होते हैं और यहां पर आप आसानी से अपने ATM कार्ड के जरिए पैसे निकाल सकते हैं.
  • येलो कलर ATM : यह एक खास प्रकार का ATM होता है जिसमें पीला कलर होता है और यह पीला कलर का अर्थ होता है सिर्फ ई-कॉमर्स के उद्देश्य से यह ATM बनाया गया है मतलब की कॉमर्स सुविधाओं के प्रधान के लिए यह ATM होता है.
  • वाइट कलर ATM : वाइट कलर ATM यह नॉन बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनी द्वारा बनाए जाते हैं और यह ATM को वाइट कलर दिया जाता है मतलब इनको व्हाइट लेबल ATM कहा जाता है.
  • ब्राउन लेबल ATM : यह ATM सिर्फ हार्डवेयर और मशीन के एक साइड पर प्रोवाइडर की एक ओनरशिप के लिए होता है और इसमें कैश मैनेजमेंट और बैंकिंग नेटवर्क यह सारी सुविधा उपलब्ध होता है और यह एक खास तरीके का ATM होता है.
  • पिंक लेबल ATM : यह ATM की बनावट सिर्फ महिलाओं के लिए की जाती है और इसमें सिर्फ महिलाओं के लिए प्रदान होते हैं मतलब सिर्फ महिलाएं इस ATM से पैसे निकाल सकते हैं.
  • ग्रीन लेबल ATM : ग्रीन लेबल ATM कृषि विभाग के लिए बनाया जाता है और इसमें कृषि विभाग के किसानों और अन्य कई विवादों के लिए बढ़ावा दिया जाता है.

ATM का आविष्कार किसने किया? 

ATM का आविष्कार जॉन शेफर्ड बैरन इन्होंने किया था और दुनिया का सबसे पहला फ्लोटिंग ATM मशीन भारत स्टेट बैंक केरल में बनाया गया था जैसे जैसे समय बीतता चला गया तो ऐसे वैसे वैसे ATM के अंदर बहुत सारे बदलाव आने लगी.

उसमें बहुत सारे बदलाव किए गए एक जैसे कि अब ATM आपके फिंगरप्रिंट पर भी अनलॉक होता है इससे आप अंदाजा लगा सकते हैं कि ATM कितना बदल गया है और यह सारी क्रांति हमारे टेक्नोलॉजी से हुई है.

READ MORE

RIP FULL FORM

निष्कर्ष:

आशा है कि आपने इस पोस्ट में ATM FULL FORM  जाना होगा और एडीएम के बारे में बहुत अच्छी तरीके से जानकारी मिली होगी और इसके साथ-साथ आपको ATM FULL FORM इन हिंदी इस विषय में बहुत अच्छी जानकारी मिली होगी.

इस आर्टिकल को आप अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर भी जरूर शेयर करें ताकि उनको भी ऐसे नॉलेज फुल लेख पढ़ने के लिए मिले और अगर आपको इस पोस्ट में कोई जानकारी नहीं दी गई ऐसा लगता है तो आप हमें नीचे कमेंट बॉक्स में लिख सकते हैं हम इस आर्टिकल को और भी सुधार सकते हैं.

Leave a Comment