Bitcoin क्या होता है?बिटकॉइन क्या है?bitcoin meaning in hindi

आज के इस आर्टिकल मैं आपको बिटकॉइन क्या है एक डिजिटल मुद्रा के बारे में बताने जा रही हूं। जिसे आप दुनिया के किसी भी कोने में काफी आसानी और सुरक्षा पूर्वक इस्तेमाल कर सकते हैं। आज के इस आर्टिकल में मैं आपको बिटकॉइन क्या है ? (What is Bitcoin in Hindi) बिटकॉइन कैसे काम करता है? (How Bitcoin Works in Hindi) बिटकॉइन कैसे बनता है ? बिटकॉइन का price क्या है ? इन सभी के बारे में बताने जा रहे हैं। आशा है आपको यह जानकारी बिटकॉइन के बारे में पढ़कर अच्छी और लाभप्रद लगेगी।

आज के समय में किसी तरह का जानकारी हासिल करना बहुत आसान हो गया है और ये सब Internet के बदौलत ही हो पाया है लोग आज घर बैठे Ticket Booking करते तथा घर बैठे हर चीज मंगा लेते हैं और अपनी जरुरत को पूरी कर लेते हैं तो आप सोचो की internet के माध्यम से लोगों का ज़िन्दगी कितना आसान हो गया है।

Bitcoin क्या होता है

लोग आज के समय में घर बैठे इंटरनेट के माध्यम से पैसे भी कमाते है और इंटरनेट से पैसे कमाने के कई सारे तरीके हैं और आप इससे भी पैसे कमा सकते हैं खेर, आज मैं आपको बिटकॉइन नेटवर्किंग साइट के बारे में बताने जा रही हूं। जिससे आजकल अधिकतर लोग अपने सुविधा के लिए इस्तेमाल करते हैं। और ये भी की बिटकॉइन में अकाउंट कैसे बनाएं ? बिटकॉइन में अकाउंट बनाने के क्या-क्या फायदे हैं ? इन तमाम चीजों के बारे में पूरी जानकारी देंगे।

Must Read: SkymoviesHD 2022 – Latest Bollywood,Hollywood Hindi Movies Download

क्रिप्टोकरेंसी क्या है (What is Cryptocurrency)

सबसे पहले जानते हैं क्रिप्टोकरेंसी के बारे में, यह एक तरह का डिजिटल एसेट होता है, जिसके लिए क्रिप्टोग्राफी का प्रयोग किया जाता है. इसका प्रयोग आम तौर पर सामान और सर्विस खरीदने के लिए किया जाता है. इसका आविर्भाव बिटकॉइन के साथ हुआ. यह “पियर टू पियर इलेक्ट्रॉनिक’ कैश सिस्टम के रूप में कार्य करता है. इसका प्रयोग इन्टरनेट की सहायता से किया जा सकता है. इसकी सहायता से बहुत ही आसानी से पैसा छुपा कर रखा जा सकता है. इसके प्रयोग के लिए किसी बैंक अथवा अन्य सरकारी संस्थान में भी जाने की आवश्यकता नहीं होती है. अतः क्रिप्टोकरेंसी की मदद से अपना धन आसानी से छिपा कर रखा जा सकता है.

क्रिप्टोकॉइन के प्रकार (How Many Types of Cryptography)

तात्कालिक समय में लगभग 1000 क्रिप्टोकरेंसी मौजूद हैं, किन्तु इसमें से कुछ ऐसे हैं, जिसका प्रयोग बहुत अधिक होता है. यहाँ पर महत्वपूर्ण क्रिप्टोकरेंसी का वर्णन किया जा रहा है.

  • ईथर और ईथरम : इसका प्रयोग इंटरचेंज करेंसी के रूप में किया जाता है. ईथर एक तरह का टोकन होता है. इसका प्रयोग ईथरम ब्लाक चैन के अंतर्गत लेनदेन के लिए किया जाता है.
  • लाइटकॉइन : इसका अविष्कार वर्ष 2011 में हुआ था. यह भी नामित कॉइन की ही तरह डीसेंट्रलाइज्ड तकनीक की सहायता से कार्य करता है. इसकी सहायता से बिटकॉइन अधिक तेज़ कार्य होता है.
  • डैश : वर्ष 2014 में डैश क्रिप्टोकरेंसी का आविष्कार हुआ था. इसके आरम्भ में इसे डार्क कॉइन के नाम से जाना जाता था. यह ‘मास्टरनोड’ नामक नेटवर्क की सहायता से कार्य करता है. यह नेटवर्क बिटकॉइन से अधिक तेज़ और प्रभावशाली है.
  • जेड कैश : इसका आविर्भाव अक्टूबर 2016 में हुआ था. यह इस क्षेत्र में एक नयी तरह की करेंसी है. इसके प्रयोग के दौरान सारे इनफार्मेशन एन्क्रिप्ट हो जाते है, फिर भी इसका प्रयोग ‘डबल स्पेंड’ के लिए नहीं किया जा सकता है.
  • मोनेरो : यह भी एक विशेष तरह की क्रिप्टोकरेंसी है. इसमें विशेष तरह की सिक्यूरिटी का प्रयोग किया जाता है, जिसका नाम रिंग सिग्नेचर होता है. यह ‘डार्क वेब ब्लैक मार्केट’ में बहुत अधिक होता है. इसकी सहयता से स्मग्लिंग की जाती है. अतः इसके प्रयोग से कालाबाजारी आसान हो जाती है.

Must Read:GB WhatsApp कैसे डाउनलोड करे?WhatsApp Kaise download Kare

कब हुई थी बिटकॉइन की शुरुआत? (History of Bitcoin)

बिटकॉइन की शुरुआत 2009 में हुई थी. शुरुआती कुछ सालों में बिटकॉइन में धीरे-धीरे बढ़ रही थी. लेकिन, 2015 के बाद से इसमें बड़ी तेजी देखने को मिली और यह दुनिया की नजरों में आ गई. कई देशों में इस वर्चुअल करंसी में ट्रेडिंग (Virtual Currency trading) को लीगल माना गया और बिटकॉइन की कीमत लगातार बढ़ती गई. मौजूदा वक्त में इसकी कीमत 18000 डॉलर के पार निकल चुकी है. यह एक तरह की डिजिटल करंसी (Digital Currency) है. इसकी शुरुआत सतोशी नाकामोतो (Satoshi Nakamoto) नाम के शख्स ने की थी. भारत में भी गुपचुप तरीके से बिटकॉइन ट्रेडिंग (Bitcoin me trading kaise karein) की जा रही है. हालांकि, सरकार ने अब तक इसे लेकर नीतियां नहीं बनाई हैं. वहीं, सुप्रीम कोर्ट से इसकी मंजूरी मिल चुकी है.

Bitcoin Kya Hai In Hindi | bitcoin meaning in hindi

Bitcoin एक वर्चुअल करेंसी है, जिसकी खोज सन 2009 में की गई थी, इसके संस्थापक या खोजकर्ता सातोशी नाकामोटो है। जैसा हमने आपको बताया कि बिटकॉइन एक प्रकार की डिजिटल करेंसी है इसे हम न तो अपनी जेब में रख सकते है और न ही किसी बैंक में जमा कर सकते है। हमारे यूजर्स के अक्सर यह प्रश्न पूछते हैं कि How To Earn Bitcoin या Bitcoin Kaise Banta Hai और Bitcoin Me Paisa Kaise Lagaye तो उनके लिए यह लेख बहुत उपयोगी है।

बिटकॉइन का लेनदेन सिर्फ इंटरनेट के माध्यम से ही किया जा सकता है और बिटकॉइन को जमा करने के लिए ऑनलाइन वॉलेट या Bitcoin Wallet की जरुरत होती है। यह एक ओपन सोर्स करेंसी है जिसका उपयोग कोई भी व्यक्ति कर सकता है। क्रिप्टो करेंसी भारत में गैरकानूनी नहीं है लेकिन फिर भी इसे खरीदते समय सही जानकारी ले। Bitcoin Ka Aaj Ka Rate हमने ऊपर बताया है लेकिन इसका रेट बदलता रहता है।

अगर आप यह जानना चाहते है कि बिटकॉइन कैसे खरीदें तो सबसे पहले यह जानकारी रखना आवश्यक है कि यह करेंसी एक पॉइंट्स की तरह होती है। जिसे हम अपने देश की मुद्रा के हिसाब से कन्वर्ट कर सकते है। Bitcoin Price में उतार-चढ़ाव आता रहता है। बिटकॉइन एक स्वतंत्र मुद्रा है जो किसी भी बैंक या सरकार के अधिकार क्षेत्र में नहीं आती है इसलिए बिटकॉइन के द्वारा तुरंत दुनिया में किसी भी जगह पैसा भेजा जा सकता है और बिटकॉइन के द्वारा कितने भी पैसे भेजने या प्राप्त करना संभव है।

फ्री बिटकॉइन कैसे कमाए? इसके लिए बिटकॉइन उपयोगकर्ताओं का अपने पैसों पर पूरा नियंत्रण रहता है।बिटकॉइन का उपयोग करने के लिए बस आपके पास Bitcoin Account या Bitcoin Wallet होना चाहिए। क्रिप्टो करेंसी भारत में लीगल है लेकिन Bitcoin Me Paisa Kaise Lagaye इसके लिए किसी भी प्रकार की बैंक की छूट या सीमा नहीं है

बिटकॉइन प्रयोग करने के क्या क्या फायदे है

वैसे इसके बहुत सारे फायदे हैं इसका इस्तेमाल करने में इसीलिए तो आज इतना पॉपुलर बन गया खेर, बिटकॉइन इस्तेमाल करने के लिए निम्नलिखित फायदे होते हैं जो इस प्रकार है:-

  • सबसे पहले इसमें कोई भी transaction fee का भुगतान नहीं करना होता।
  • इससे आप दुनिया में कहीं भी किसी को भी पैसे भेज सकते हैं।
  • अगर आप बिटकॉइन में अकाउंट बना लेते हैं तो यह कभी भी ब्लॉक नहीं होता है।
  • इसके ट्रांजैक्शन प्रोसेस में कोई सरकार या अथॉरिटी नजर नहीं रखता है। जिस कारण इसका इस्तेमाल गलत काम के लिए बहुत कम किया जाता है।
  • काफी तेज काम करता है और अन्य की तुलना में सुरक्षित भी है।
  • Long term invest के लिए bitcoin सही है क्यूंकि शुरू से देखा गया है की इसकी कीमत हमेसा ऊपर ही जाता है यानी Bitcoin की rate जल्दी घटती नहीं है। तो आगे चल कर इसमें आपको फ़ायदा हो सकता है

बिटकॉइन प्रयोग करने के नुक्सान

वैसे इसके बहुत सारे फायदे हैं और नुक्सान भी है लेकिन फिर भी लोग इसका इस्तेमाल करते हैं खेर, बिटकॉइन इस्तेमाल करने से निम्नलिखित नुक्सान होते हैं जो इस प्रकार है:-

  • Bitcoin एक सवतंत्र Digital Currency है इसे कोई Government या कोई Bank control नहीं करता जिसके कारण इसका प्रयोग करना थोड़ा आपके लिए दिकत हो सकता है क्यूंकि कब Bitcoin की कीमत बढ़ जाये या फिर घट जाए जिसका कोई गारंटी नहीं है।
  • मान लो अगर आपका Account किसी hacker ने hack कर लिया तो आपका account कोई वापस नहीं ला सकता है क्यूंकि इसमें कोई support team नहीं होता है।
  • Bitcoin में कोई Refund policy नहीं है
  • Bitcoin के अंदर Black market की Activity बहुत जाएदा होती है

हिस्ट्री ऑफ बिटकॉइन | History of bitcoin

बिटकॉइन 16 अगस्त 2008 को स्थापित किया गया 21 अक्टूबर 2000 में संतोषी नाकामोतो द्वारा हुआ था। हाय पर हम हलसी ने पहले व्यक्ति हैं जिन्हें बिटकॉइन करंसी मिली पीने वह व्यक्ति हैं। जिन्होंने बिटकॉइन सॉफ्टवेयर डाउनलोड किया था और उसके रिलीज तिथि 12 जून 2009 की पिन्नी को 10 बिटकॉइन नाकामोतो द्वारा मिले थे।

बिटकॉइन की कीमत| price of bitcoin

अब आप ने जान तो लिया है की बिटकॉइन क्या है लेकिन क्या आपको पता है की 1 बिटकॉइन की कीमत क्या है आप जान कर हैरान हो जायेंगे इंडिया में 1Bitcoin की कीमत करीब Rs 67712.20 रूपये है लेकिन हा ध्यान रहे बिटकॉइन की कीमत घटती बढती रहती है।

 सबसे ज्यादा बिटकॉइन्स किसके पास है ? who hold most bitcoin

Micheal Novogratz  के पास अब तक की सबसे ज्यादा बिटकॉइन है बिलियन एर माइकल ने 2015 में $500 मिलियन खर्च किए जिसमें से 150$  मिलियन  ज्यादा उसको मिले 2017 में।

Use Of Bitcoin

  • बिटकॉइन का प्रयोग आप ऑनलाइन शोपिंग (इंटरनेशनल) कर सकते है
  • बिटकॉइन का प्रयोग आप दुनिया में किसी को भी पैसे भेजने के लिए कर सकते है या फिर रिसिव करने के लिए यूज़ कर सकते है
  • Bitcoin का प्रयोग आप पेमेंट करने के लिए कर सकते है
  • बिटकॉइन का प्रयोग आप पैसे कमाने के लिए भी कर सकते है
  • बिटकॉइन को आप खरीद तथा बेच भी सकते है।

Bitcoin Mining

अपने साथ शुरू करने के लिए आप बिटकॉइन माइन कर सकते है। इसके लिए आपके पास एक पॉवरफुल कंप्यूटर, स्मार्टफोन या एक समर्पित बिटकॉइन माइनिंग मशीन की आवश्यकता होती है जिसमें बहुत अधिक कम्प्यूटिंग पावर हो। यदि आपको लगता है कि एक अकेले व्यक्ति के रूप में बिटकॉइन की माइनिंग करने में शायद कई साल लगेंगे, तो इसके लिए आपको बिटकॉइन को माइन करने के लिए कुछ ऑनलाइन पोल्स में शामिल होना चाहिए। बिटकॉइन की माइनिंग के लिए हजारों लोगों की संयुक्त शक्ति का उपयोग करें।

Invest Trade Bitcoin

भारत में बिटकॉइन से पैसे कमाने का एक दूसरा तरीका बिटकॉइन में निवेश करने का होता है। यहां आप बिटकॉइन ख़रीद ले, अगर आप अमीर है या शेयर मार्केट में ट्रेडिंग करते है तो आपके लिए यह अच्छा तरीका साबित हो सकता है। बिटकॉइन प्राइस में उतार-चढ़ाव आते रहते है जब बिटकॉइन प्राइस कम होती है तो आप बिटकॉइन ख़रीद ले और आप जानते है की बिटकॉइन प्राइस ऱोज बढ़ रही है, और जैसे ही बिटकॉइन प्राइस आसमान छुए आप अपने बिटकॉइन को बेचकर कई गुना मुनाफा प्राप्त कर सकते है।

Satoshi Kya Hai

जिस तरह भारत में रुपये के एक भाग को पैसे कहते है, और 1 रुपये में 100 पैसे होते है ठीक उसी तरह बिटकॉइन के एक भाग को “Satoshi” कहा जाता है, क्योंकि बिटकॉइन को सातोशी नाकामोटो ने बनाया था।

एक बिटकॉइन को हम 100000000 भाग में तोड़ सकते है यानि एक बिटकॉइन 10 करोड़ सातोशी से मिलकर बना होता है। दुनिया में अभी तक किसी देश की करेंसी को इतने भागो में तोडा नहीं जा सकता है। जिस प्रकार रुपये का साइन (₹) होता है उसी प्रकार बिटकॉइन का Logo या Sign (฿) होता है।

  • 1 Satoshi = 0.00000001 ฿
  • 10 Satoshi = 0.00000010 ฿
  • 100 Satoshi = 0.00000100 ฿
  • 1,000 Satoshi = 0.00001000 ฿
  • 10,000 Satoshi = 0.00010000 ฿
  • 100,000 Satoshi = 0.00100000 ฿
  • 1,000,000 Satoshi = 0.01000000 ฿
  • 10,000,000 Satoshi = 0.10000000 ฿
  • 100,000,000 Satoshi = 1.00000000 ฿

बिटकॉइन के नुकसान बिटकॉइन प्रयोग करने के नुक्सान

वैसे इसके बहुत सारे फायदे हैं और नुक्सान भी है लेकिन फिर भी लोग इसका इस्तेमाल करते हैं खेर, बिटकॉइन इस्तेमाल करने से निम्नलिखित नुक्सान होते हैं जो इस प्रकार है:-

  • Bitcoin एक सवतंत्र Digital Currency है इसे कोई Government या कोई Bank control नहीं करता जिसके कारण इसका प्रयोग करना थोड़ा आपके लिए दिकत हो सकता है क्यूंकि कब Bitcoin की कीमत बढ़ जाये या फिर घट जाए जिसका कोई गारंटी नहीं है।
  • मान लो अगर आपका Account किसी hacker ने hack कर लिया तो आपका account कोई वापस नहीं ला सकता है क्यूंकि इसमें कोई support team नहीं होता है।
  • Bitcoin में कोई Refund policy नहीं है
  • Bitcoin के अंदर Black market की Activity बहुत जाएदा होती है

Must Ready: डिंपल चीमा कौन है? Dimple Cheema Biography | Age, Photo, Biography

Conclusion

आज के इस आर्टिकल में मैंने आपको बिटकॉइन क्या है (Bitcoin kya hai) बिटकॉइन कैसे बनता है? (Bitcoin kaise banta hai) Bitcoin कैसे काम करता है? बिटकॉइन की क्या प्राइस है ? बिटकॉइन में अकाउंट कैसे बनाएं ? बिटकॉइन में अकाउंट बनाने के क्या-क्या फायदे हैं? इन सभी के बारे में बताया। आशा है आपको बिटकॉइन के बारे में पढ़कर अधिकतर जानकारी मिल गई होगी।

अगर आपको हमारे आर्टिकल पढ़कर अच्छा लगा तो इसे अपने दोस्तों के साथ अवश्य शेयर कीजिएगा और अगर आपके मन में इससे संबंधित कोई भी प्रश्न हो तो आप हमें भेजें जो कमेंट बॉक्स में कमेंट कर कर पूछ सकते हैं।

Leave a Comment