TLD full form in Hindi – TLD full form क्या होता है?

नमस्कार दोस्तो स्वागत है आपका हमारे एक और नए पोस्ट में आज मैं आपको बताने वाला हूं डी एल ई डी का full form क्या होता है इस पोस्ट में मैंने आपको पी एल डी full form और उसके साथ-साथ पी एल डी क्या होता है? बताया हुआ है.

आपके मन में यह सवाल आता होगा कि जब आप कभी भी अपनी website के लिए Domain लेने जाते हैं तो आपको यूट्यूब पर बहुत जगह पर लोग बोलते हैं कि TLD Domain हमेशा ले यह सबसे अच्छा होता है पर आपको इस TLD का full form हिंदी में जानना है तो आप नीचे पड़ सकते हैं.

tld full form

TLD FULL FORM IN HINDI 

TLD का full form होता टॉप लेवल Domain ( उच्चस्तरीय Domain) होता है यह Domain के अथॉरिटी पर निर्भर करता है कि कौन सा Domain टॉप लेवल का है इसका ही शॉर्ट फॉर्म TLD होता है.

अगर आपको भी TLD Domain लेना है तो आपको इस पोस्ट के नीचे सभी टॉप लेवल Domain के लिस्ट मिल जाएगी उस लिस्ट में आप को सबसे बढ़िया जोड़ों में लगे वह आप किसी भी website पर जाकर आसानी से लेकर अपने ब्लॉग पर लगा सकते हो.

Also Read – army bharati

TLD FULL FORM IN ENGLISH 

TLD full form इन इंग्लिश TOP LEVEL DOMAIN यह होता है और इसको हिंदी में उच्च स्तरीय Domain कहा जाता है. यह एक TLD full form का मुख्य शब्द होता है.

यही अर्थ होता है आमतौर पर TLD full form का किस शब्द के और भी क्षेत्रों में अलग-अलग अर्थ होते हैं यह सारे अर्थ में से सबसे लोकप्रिय अर्थ टॉप लेवल Domain ही है मतलब यह website का एक Domain होता है.

इसीलिए यह सब से प्रसिद्ध शब्द है नीचे आपको TLD full form के बारे में और भी जानकारी दी है.

Top level domain ( TLD) क्या होता है? 

टॉप लेवल Domain यह एक Domain का प्रकार है जो सबसे ज्यादा लोकप्रिय Domain होते हैं वह आमतौर पर टॉप लेवल Domain होते हैं और उनमें भी टॉप लेवल 2 में वही होते हैं जिनकी एक अथॉरिटी होते हैं.

 वह Domain एक अच्छी website के लिए बनाए जाते हैं जैसे डॉट कॉम Domain एक टॉप लेवल 2 मिन है और यह पूरे अखबार में प्रसिद्ध है जग भर की 90 परसेंट website डॉट कॉम Domain एक्सटेंशन को इस्तेमाल करती है और यह एक Domain नेम सर्वर से जुड़ा होता है जो आपकी website को एक Domain से जोड़ता है.

टॉप लेवल Domain कोण कोनसे है? 

  • . Com
  • . Org
  • . Net

यह टॉप लेवल Domain हे 3 के अलावा बहुत सारे Domain बहुत सारी Domain है और वह भी टॉप लेवल Domain है पर उनका कार्य करने का उद्देश्य थोड़ा अलग होता है और यह 3 Domain मे पूरे जग भर में प्रसिद्ध है इसलिए यह टॉप लेवल Domain है.

टॉप लेवल Domain के कौन-कौन से प्रकार होते हैं? 

टॉप लेवल Domain के आमतौर पर तीन प्रकार होते हैं यह तीनों प्रकार अलग-अलग तरह के होते हैं और यह सारी Domain एक टॉप लेवल अथॉरिटी से जुड़े होते हैं इसीलिए यह सारे टॉप लेवल Domain है

  1. gTLD – GENERICS TOP LEVEL DOMAIN 
  2. sTLD – SPONSORED TOP LEVEL DOMAIN
  3. ccTLD – COUNTRY SPECIFIC TOP LEVEL DOMAIN

gTLD – GENERICS TOP LEVEL DOMAIN 

यह Domain साधारण Domain होते हैं जो जग भर में प्रसिद्ध है जैसे कि डॉट कॉम डॉट ओआरजी डॉट नेट यह लोकप्रिय Domain है और यह सामान्य टॉप लेवल Domain होते हैं.

जिन्हें आप आसानी से खरीद कर इस्तेमाल कर सकते हैं इसके अलावा भी बहुत सारे जेनेरिक टॉप लेवल Domain उपलब्ध है. और यह Domain के प्रकार में कुछ ऐसे भी Domain होते हैं जिससे आप अगर कोई बिजनेस कर रहे हैं तो उस बिजनेस के हिसाब से आपको Domain लेना है.

 तो जैसे अगर आपका कोई ऑर्गनाइजेशन है और उस ऑर्गनाइजेशन की आपको website के लिए Domain रजिस्टर करना है तो आप अपनी ऑर्गेनाइजेशन के डॉक्यूमेंट सबमिट करके डॉट ओआरजी यह Domain एकदम आसानी से ले सकते है.

इससे आपकी ऑर्गेनाइजेशन को दर्शाने में आपकी मदद होती है यह इस Domain की सबसे खास बात है इसलिए यह एक टॉप लेवल Domain है.

sTLD – SPONSORED TOP LEVEL DOMAIN

टॉप लेवल Domain के प्रकार में सबसे ज्यादा बिजनेस को फायदा होता है क्योंकि यह Domain सिर्फ एनटीटी के सांसद ग्रुप के लिए होते हैं जो एक बिजनेस करते हैं.

या कोई सरकारी संस्था या सरकार का कोई भी काम हो तो यह सेंसर टॉप लेवल Domain इस्तेमाल किया जाता है आपने कई बार जब सरकार की कोई भी नई पॉलिसी आती है.

तब सरकार की जो website होती है वह website का एक्सटेंशन यानी Domain हमेशा .gov होता है इसकी वजह से लोगों में सरकार की website पर एक भरोसा होता है.

कि यह सरकार की website को पहचानने का सबसे आसान तरीका है जिससे आपको पता चलेगा कि कौन सी website सरकार द्वारा पामा प्रमाणित है अगर उस website के सामने

नीचे कुछ स्पॉन्सर्ड टॉप लेवल Domain दिए गए हैं और उनके बारे में अधिक जानकारी भी दी गई है.

  1. .GOV
  2. .EDU
  3. MIL
  •  .gov का Domain लगा है तो वह सरकार से अधिकृत website है आप उस website पर कुछ भी कर सकते हैं वहां पर आपके साथ कोई धोखा नहीं होगाहोगा.

और किसके साथ साथ जो एजुकेशन के लिए website बनाई जाती है जैसे शिक्षा विभाग के लिए कॉलेज के एडमिशन के लिए जो website बनाई जाती है वह website 

  • .edu एक Domain से बनाई जाती है ताकि साला विभाग को अपनी website को लोगों के पास पहुंचाना आसान हो जाता है
  • .mil यह टॉप लेवल Domain मिलिट्री सुविधाओं के लिए इस्तेमाल होता है जो भी मिलिट्री का ऑनलाइन काम होते हैं वह सारे इस Domain एक्सटेंशन से जुड़ी websiteों पर होते हैं क्योंकि मिलिट्री के काम में बहुत मुक्त होते हैं इसलिए यह टॉप लेवल Domain इस्तेमाल करना जरूरी होता है.

CcTLD – COUNTRY CODE TOP LEVEL DOMAIN 

यह Domain आमतौर पर अपने देश से अलग-अलग होते हैं मतलब किसी भी अगर आपको देश को टारगेट करना है और दूसरे देश को ज्यादा महत्व नहीं देना तो आप अलग-अलग देशों के कंट्री वाइज कंट्री कोड टॉप लेवल Domain ले सकते हैं.

यह सभी Domain अपनी कंट्री के हिसाब से अलग होते हैं और इनके महत्व बहुत ज्यादा होता है अगर आप किसी कंट्री का टॉप लेवल Domain लेते हैं तो आपको उसी कंट्री में सबसे ज्यादा ट्रैफिक आता है.

आपको उदाहरण के तौर पर नीचे कुछ कंट्री कोड टॉप लेवल Domain दिए गए हैं.

how to buy top leval domain ?

godaddy limited offer grab now

visit now

computer full form

iti full form

निष्कर्ष:

आपने इस पोस्ट के जरिए TLD full form जाना होगा इसी में आशा करता हूं इसके साथ-साथ TLD full form इन हिंदी यह भी आपको अच्छी तरह से समझ आया होगा और टॉप लेवल Domain कैसे काम करते हैं यह भी आपको इस पोस्ट में मैंने बताया है अगर आपको ऐसे ही जानकारी से भरे और भी पोस्ट पढ़ने तो आप हमारी website पर और भी अन्य पोस्ट पढ़कर जानकारी ले सकते हैं पोस्ट पढ़ने के लिए धन्यवाद.

Leave a Comment